IPL 2022: 'बेदम-बेपरवाह' पंड्या का खेल-खेल में बड़ा कारनामा, इतिहास रचने के करीब गुजरात टाइटन्स – Aaj Tak

Feedback
आईपीएल का 15वां सीजन अब प्लेऑफ की तरफ बढ़ रहा है. मुंबई इंडियंस (MI) और चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) जैसी टीमें इस बार खिताबी दौड़ में नहीं दिखेंगी. आईपीएल के इतिहास की दो सबसे कामयाब टीमें फिसड्डी साबित हुईं और अंक तालिका में नीचे से क्रमश: पहले और दूसरे स्थान पर रहीं. टॉप-4 की तस्वीर अभी पूरी तरह साफ नहीं हुई है, लेकिन इतना तय है कि आईपीएल डेब्यू कर रही गुजरात टाइटन्स ने अपने लिए नंबर-1 का स्थान सुरक्षित कर लिया है. यानी उसके पास क्वालिफायर-1 जीतकर सीधे फाइनल में पहुंचने का सुनहरा मौका है.
गुजरात टाइटन्स की इस कामयाबी के पीछे दो ऐसे शख्स का हाथ है, जिनकी बदौलत टीम का मैदान के अंदर और बाहर दोनों जगह जोश बरकरार रहा. कप्तान हार्दिक पंड्या और हेड कोच आशीष नेहरा की भागीदारी ने ऐसा रंग जमाया कि इस नई नवेली टीम ने अब तक 13 मैचों में से 10 मैच जीत लिए और उसे सिर्फ 3 में ही हार मिली. यानी गुजरात की टीम अंकतालिका में 20 अंकों को छूने वाली एकमात्र टीम है.  
एक अनुभवहीन कप्तान का ‘करिश्मा’
आईपीएल 2022 के लिए गुजरात टाइटन्स फ्रेंचाइजी जब अपना रणनीति तय कर रही थी तो प्रमुख कोच के तौर पर आशीष नेहरा का नाम उतना चौंकाने वाला नहीं था, लेकिन कप्तान के तौर पर हार्दिक पंड्या का नाम बेहद हैरान करने वाला था. दरअसल, गुजरात ने एक ऐसे खिलाड़ी पर दांव लगाया था, जिसे फिट नहीं माना जा रहा था. एक ऑलराउंडर की भूमिका में इस खिलाड़ी की प्रतिष्ठा लगभग हाशिए पर जा चुकी थी और टीम इंडिया में उसके विकल्प की तलाश शुरू हो चुकी थी.    
हार्दिक पंड्या को गुजरात टीम की कमान सौंपे जाने के वक्त क्रिकेट की गलियारे में आशंका व्यक्त जा रही थी कि आईपीएल में डेब्यू करने जा रही इस टीम का भविष्य क्या होगा. लेकिन कमाल तो तब हो गया, जब हार्दिक की कप्तानी वाली इस टीम ने अपने शुरुआती तीनों मैच जीते और एक समय तो 9 मैचों में 8 जीत उनके खाते में थी. आईपीएल के इस सफर में यह टीम अपने हैरतअंगेज खेल से प्वाइंट टेबल पर टॉप पर पहुंच गई और अब क्वालिफायर-1 खेलने के लिए तैयार है.   
पंड्या के लिए ‘लाइफ लाइन’ ये IPL
सच तो यह है कि मौजूदा आईपीएल हार्दिक पंड्या के लिए किसी ‘लाइफ लाइन’ से कम नहीं. 28 साल के इस ‘करिश्माई ऑलराउंडर’ में अब नेतृत्वकर्ता के भी गुण आ गए हैं. कप्तानी की दबाव ने उन्हें और जिम्मेदार बना दिया है. एक अनुभवहीन कप्तान का बेहतरीन रिपोर्ट कार्ड निश्चित तौर पर समकालीन कप्तानों के लिए उदाहरण माना जाएगा. हार्दिक इस आईपीएल के दौरान कप्तानी, बल्लेबाजी और गेंदबाजी- इन तीनों मोर्चों पर अपनी मौजूदगी दर्ज कराई. मौजूदा आईपीएल में हार्दिक पंड्या ने अब तक 12 मैचों में 35.10 की औसत से 351 रन जुटाए हैं, जिसमें उनके 3 अर्धशतक शामिल हैं. इस दौरान पंड्या ने 21.3 ओवरों की गेंदबाजी में 4 विकेट भी निकाले.     
GT Awards🏆 returns in the 🆕 episode of #InTheLockerRoom ▶️

Big reveal: Coach Nehra’s ᴄʜɪʟʟ ᴘɪʟʟ 😏#SeasonOfFirsts #AavaDe #TATAIPL pic.twitter.com/YIjygcRCAq
कोच नेहरा का फंडा- पूरी नींद लो   
दूसरी तरफ कोच आशीष नेहरा के ‘मंत्र’ ने भी खिलाड़ियों से शत प्रतिशत प्रदर्शन करवा लिया. दरअसल, नेहरा ने अपने अलग ही अंदाज में टीम को ढाला. उन्होंने खिलाड़ियों पर प्रैक्टिस, फिटनेस और मैच का दबाव कम करते हुए खाने-पीने और नींद पूरी करने का फंडा अपनाया है. नेहरा का यही अंदाज खिलाड़ियों को पंसद आ रहा और मैच में जीत के नतीजे के साथ बेहतर आउटपुट भी मिल रहा है. आईपीएल की शुरुआत में गुजरात टाइटन्स का पोस्ट किए गए वीडियो से साफ पता चलता है कि नेहरा ने प्लेयर्स के लिए कितना आसान माहौल बना रखा है. 
हां, साथ ही यह भी नहीं भूलना चाहिए कि गुजरात टाइटन्स फ्रेंचाइजी ने जिस सोच के साथ विश्व विजेता कोच गैरी कर्स्टन को अपने खेमे में शामिल किया था, वह टीम को ऊंचाई दे गई. कप्तान, कोच और मेंटर की ‘तिकड़ी’ ऐसी सटीक रणनीति बनाती गई कि टीम ने कई मौकों पर हाथ से फिसलते मैच पर भी कब्जा जमा लिया. 
    
Copyright © 2022 Living Media India Limited. For reprint rights: Syndications Today
Add Aaj Tak to Home Screen
होम
वीडियो
लाइव टीवी
न्यूज़ रील
मेन्यू
मेन्यू

source

About Summ

Check Also

Slow Cooker Chicken Burrito Bowl (Mexican Chicken) – Joyous Apron Summersourcingshow Pict

Source by lightsmith05